एक लाख रु. जुर्माने की भी सजा

विधिक संवाददाता
भोपाल,

हत्या के आरोपी हरीनारायण सिंह को जिला अदालत ने आजीवन कारावास मृत्युपर्यंन्त के साथ एक लाख दो हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है. यह फैसला सोमवार को न्यायाधीश आरके सोनी की कार्ट ने सुनाया है .

विशेष लोक अभियोजन अधिकारी केके सक्सेना ने बताया कि 3 मई 2015 को आदित्य नारायण उपाध्याय निवासी एलआईजी 3सी कस्तूरबा नगर गोविन्दपुरा भोपाल द्वारा गोविन्दपुरा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसने हरीनारायण श्रीवास से अप्रैल 2015 में एक मकान क्रमांक 49-50 सूरजकुंड अवधपुरी में खरीदा था.

उस मकान में उसका साला जितेन्द्र भार्गव व अन्य किराएदार रहने लगे. 3 मई 2015 की रात करीब 10 बजे हरीनारायण बोला कि यह मकान मेरा है. तत्काल खाली करो नहीं तो मंै बताता हूं. किराएदार आदित्यनारायण ने उसकी धमकी के डर से गोविन्दपुरा थाने में शिकायत दर्ज करा दी.

इसके अलावा मकान पर बंदूकधारी 4 सुरक्षागार्ड भी लगा लिए थे. रात करीब सवा बारह बजे हरीनारायण 12 बोर की बंदूक लेकर आया और मकान के बाहर खड़े गार्ड निर्भय हरियाले को सीने में गोली मार दी जिससे वह जमीन पर गिर गया. फिर हरीनारायण ने मकान के अंदर घुसकर जितेन्द्र की पीठ में गोली मार दी, वह भी गिर गया. इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई थी.

Related Posts: