vyapamखंडवा, 28 जुलाई. पीएमटी फर्जीवाड़ा 2004 के मामले में खंडवा में दो आरोपियों को पांच-पांच साल सजा सुनाई गई। तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश प्रकाश चंद्रा ने मूल परीक्षार्थी रवि पिता राकेश राजौरिया निवासी दर्पण कॉलोनी ग्वालियर और फर्जी परीक्षार्थी अजीत कुमार उर्फ मुकेशकुमार बनारस प्रसाद निवासी नालंदा बिहार को भादंवि की धारा 419, 420, 467, 468 और 120 बी के तहत दोषी पाते हुए सजा सुनाई।

रवि को 2500 और मुकेश को 4500 रुपए जुर्माना भी किया गया। रेकेटियर नवीनकुमार महावीरप्रसाद निवासी ग्राम कुम्हानी बिहार को बरी कर दिया गया।