arun1न्यूयॉर्क. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि अगला 2-3 साल बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि सरकार कई सुधार कार्यक्रमों के कार्यान्वयन की योजना बना रही है जिससे भारत को 7-7.5 प्रतिशत की दर से अधिक वृद्धि का ‘निर्दिष्ट लक्ष्यÓ प्राप्त करने में मदद मिलेगी.

जेटली ने कहा ‘भारत में न सरकार, न जनता और न ही उद्योग 7-7.5 प्रतिशत की वृद्धि दर के बारे में बहुत उत्साहित है क्योंकि हर किसी को जिनमें मैं और प्रधानमंत्री भी शामिल हैं, अहसास है कि शायद हमारी क्षमता इससे कहीं ज्यादा है.

विचार संस्था, काउंसिल आन फॉरेन रेलेशंस द्वारा निवेश कंपनी वारबर्ग पिंकस के अध्यक्ष और पूर्व वित्त मंत्री टिमोथी गेटनर के साथ आयोजित परिचर्चा में जेटली ने कहा कि उनकी सरकार ने अपने एक साल के कार्यकाल में काफी फासला तय किया है.
उन्होंने कहा ‘यह फासला तय करने के बाद अगले 2-3 साल विभिन्न सुधार कार्यक्रमों के कारण बेहद महत्वपूर्ण होंगे जो अभी प्रक्रिया में है और उन सबका कार्यान्वयन करना है.
हमने अब समस्या वाले सभी क्षेत्रों की पहचान कर ली है और एक-एक करके जैसे-जैसे हम उनका समाधान करेंगे, उम्मीद है कि हमें अपने निर्दिष्ट लक्ष्य तक पहुंच जाना चाहिए.Ó

Related Posts: