भोपाल,  आयकर विभाग ने बुधवार को राज्य में अब तक की सबसे बड़ी छापामार कार्रवाई को अंजाम दिया है.विभाग ने दिलीप सूर्यवंशी, सुधीर शर्मा और राज्य में मंत्री विजय शाह के करीबी पीए समेत तकरीबन 60 ठिकानों पर छापे मारे. मप्र के अलावा अन्य राज्यों में भी छापे की कार्रवाई की गई है.जबकि उनके घरों, दफ्तरों, कंपनियों और खदानों पर भी छापे कीं कार्रवाई की गई है.

सूत्रों ने कहा कि दिलीप सूर्यवंशी और सुधीर शर्मा के ठिकानों से 5 करोड़ नगद,करीब इतनी ही राशि के जेवरात कई संपत्तियों में निवेश के दस्तावेज,15 लाकर और एक दर्जन से ज्यादा बैंक खातों का पता चला है.सूत्रों ने कहा कि आयकर अमले ने कम्प्यूटर व लैपटाप भी बरामद किए हैं.देर रात तक छापे की कार्रवाई जारी थी.और कई दलों के लौटने का इंतजार किया जा रहा था.जिसके बाद मूल्यांकन की कार्रवाई शुरु हो सकेगी.क्योंकि इन दोनों कंपनियों के संचालक प्रदेश की भाजपा सरकार के प्रभावी लोगों से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष से जुडे हुए है.इसलिए आयकर के इस छापे से राजनीतिक और प्रशासनिक हलकों में हड़कंप मचा हुआ है.आयकर विभाग की मप्र में ये अब तक सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है. आयकर विभाग की इन्वेस्टीगेशन विंग के महानिदेशक के नेतृत्व में दर्जनों टीमों ने बुधवार सुबह दिलीप बिल्डकॉन और एसआर गु्रप के ठिकानों पर छापे की कार्रवाई की. सूत्रों के अनुसार, दिलीप बिल्डकॉन के मालिक दिलीप सूर्यवंशी के अरेरा कालोनी के घर ई-5  व दफ्तर और एसआर ग्रुप के मालिक सुधीर शर्मा के एमपी नगर स्थित दफ्तर और आकृति गार्डन स्थित घर पर दबिश दी गई.

इसके अलावा दोनों समूहों के विभिन्न पार्टनर, डायरेक्टर और अधिकारियों-कर्मचारियों के घरों, खदानों, टोल टैक्स नाके, एग्री फार्म,दवा फैक्ट्रियों सहित कई ठिकानों पर छापे मारे गए हैं. प्रदेश सहित अन्य राज्यों में 60 ठिकानों पर छापे मारे गए हैं. इनमें से 30 ठिकाने केवल भोपाल में है.सभी ठिकानों पर दिन भर छानबीन और पूछताछ का सिलसिला जारी रहा. छापों के दौरान इन ठिकानों से सड़क निर्माण, रियल स्टेट, खदान और जमीन में करोड़ों रुपए के निवेश के दस्तावेज मिले हैं.

Related Posts: