SEHWAGनई दिल्ली,  विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा है कि भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी में टीम इंडिया को एक बार फिर विश्व विजेता बनाने की ताकत है और उन्हें 2019 के विश्वकप तक खेलना चाहिये. सहवाग ने आज तक के ट्वेंटी-20 विश्वकप को लेकर कार्यक्रम सलाम क्रिकेट में कल कहा कि धोनी बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और मेरा मानना है कि उन्हें 2019 के विश्वकप तक खेलते रहना चाहिये. वह एक ही तरह के फार्मेट में खेलते हैं और उनके पास अपनी फिटनेस को बनाये रखने का पूरा समय रहेगा.

इसलिये मुझे लगता है कि वह तीन चार वर्ष और खेल सकते हैं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके सहवाग ने एक बार फिर धोनी के साथ अपने मतभेदों की बातों को सिरे से खारिज कर दिया और धोनी की नेतृत्व क्षमता की जमकर सराहना की. उन्होंने कहा कि धोनी और मेरे बीच किसी तरह का मतभेद नहीं था. यह सब कुछ लोगों के दिमाग की उपज थी और मीडिया यह दिखाता था कि हमारे बीच कोई दीवार है और हम दोनों दो अलग-अलग रास्तों पर चल रहे हैं.

उन्होंने कहा कि बात चाहे इंग्लैंड दौरे की हो या आस्ट्रेलिया दौरे की. हमारे बीच ऐसा कुछ नहीं था. यदि खटपट की बात होती तो टीमें में एक ही रहता चाहे वह फिर धोनी हो या सहवाग. खुद को भारतीय टीम से बाहर किये जाने के मुद्दे पर सहवाग ने ईमानदारी से स्वीकारते हुये कहा कि कोई भी खिलाड़ी प्रदर्शन के दम पर टीम में रहता है.

जब मुझे हटाया गया था तो मैं उस समय रन नहीं बना पा रहा था और चयनकर्ताओं को उस समय लगा होगा कि मुझे हटाकर किसी युवा खिलाड़ी को टीम में जगह देना बेहतर होगा. मुझे हटाये जाने के पीछे यही एक वजह थी कि मैं लंबे समय से रन नहीं बना पा रहा था. विश्वकप के लिये धोनी को किसी तरह की सलाह देने के बारे में पूछे जाने पर सहवाग ने कहा कि यदि मैं ऐसे कोई सलाह दूंगा तो विवाद खड़ा हो जाएगा. मुझे सलाह देनी होगी तो मैं धोनी से मिलकर देना चाहूंगा. लेकिन फिर भी मेरा मानना है कि धोनी बल्लेबाजी क्रम में चार नंबर पर खेलें तो भारत के लिये बहुत अच्छा होगा.