नयी दिल्ली,

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज़ महेंद्र सिंह धोनी की प्रशंसा करते हुये कहा है कि वह 36 साल की उम्र में भी 26 साल के खिलाड़ियों की तरह तेज़ तर्रार खेलते हैं।

धोनी की फार्म को लेकर गाहे बगाहे आलोचक समीक्षा करते रहते हैं लेकिन भारत और श्रीलंका के खिलाफ रविवार को संपन्न सीमित ओवर सीरीज़ में पूर्व कप्तान ने एक बार फिर अपने प्रदर्शन से साफ कर दिया कि टीम इंडिया में उनकी जगह अभी भी ‘वर्चुअल कैप्टन’ जैसी है और फिलहाल उनकी जगह लेने वाला कोई अन्य खिलाड़ी नही है।

क्रिकेट की जबरदस्त समझ और अपने होशियार फैसलों के लिये हमेशा प्रभावित करने वाले धोनी को अहम बताते हुये कोच ने एक चैनल से कहा“ मैं पिछले 30-40 वर्षाें से क्रिकेट को देख रहा हूं।विराट को भी काफी समय हो गया है।लेकिन यदि धोनी को देखें तो वह इस उम्र में भी 26 साल के युवा क्रिकेटर को हरा सकते हैं।वह काफी तेज़ तर्रार खिलाड़ी हैं।”

शास्त्री ने कहा“ यदि पूर्व क्रिकेटर धोनी की अालोचना करते हैं तो उन्हें पहले अपने खेल के बारे में सोचना चाहिये।मुझे यकीन है कि वे भी 36 साल की उम्र में इस तरह का खेल नहीं पाते होंगे।धोनी आज भी मैदान पर तेज़ भागते हैं और उनकी फिटनेस को लेकर सवाल नहीं किया जा सकता है।उन्होंने हमें दो विश्वकप दिलाये हैं और आज के समय में भी उनके जैसा विकेटकीपर हमारे पास सीमित ओवर टीम में नहीं है।”

Related Posts: