1000नई दिल्ली, जाली मुद्रा के जोखिम पर काबू पाने के लिए सभी मुद्रा नोटों में नई नंबरिंग प्रणाली और 7 नए फीचर जोड़े जा रहे हैं. इन उपायों के तहत शुरू में 500 रुपये व 1000 रुपये के नोटों पर ध्यान दिया जाएगा.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड (बीआरबीएनएमपीएल) तथा भारतीय प्रतिभूति मुद्रण तथा मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड (एसपीएमसीआईएल) ने संशोधित नंबर पैटर्न शुरू करने के लिए कदम उठाए हैं. शुरू में 500 रुपये व 1000 रुपये के नोटों को इसके दायरे में लाया जाएगा.

Related Posts: