02askn01अशोकनगर, 2 जून.का.शहर की जल वितरण व्यवस्था जो पानी की टंकियों से नलों के द्वारा नपा द्वारा एक दिन छोड़कर की जा रही है.जिसपर हो रही बिजली कटौती से अमाही डेम पर मोटरें न चल पाने के कारण बुरा प्रभाव पडऩे लगा है.जिसे लेकर नपाध्यक्ष ने नगरवासियों को जलापूर्ति बनाये रखने की मंशा से ज्ञापन सौंपकर नियमित बिजली सप्लाई की बात कही है.

शहर में जल संकट दिनों-दिन गहराता जा रहा है.गर्मी में पानी की आवश्यक्ता अधिक होती है लेकिन शहर वासियों को पर्याप्त मात्रा में शुद्ध पेयजल उपलब्ध नहीं हो पा रहा है.इसका एक बड़ा कारण विद्युत कटौती भी है अभी शहर की जल सप्लाई अमाही तालाब से की जाती है.

तालाब किनारे स्थित पम्प हाउस का विद्युत कनेक् शन तूमैन फीडर से जुड़ा हुआ है. ग्रामीण क्षेत्रो में ज्यादातर समय बिजली नहीं रहती है.इस कारण तुमैन में भी बिजली कटौती के कारण अमाही पम्प हाउस को बिजली नहीं मिल पाती है जिससे शहर की पेयजल आपूर्ति बाधित हो रही है. इसी मुद्दे को लेकर मंगलवार को नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमति सुशीला साहू एवं अन्य पार्षदो ने मध्यप्रदेश मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के ईई को ज्ञापन सौंपा है जिसमें फीडर बदलने की मांग की गई है.नपा अध्यक्ष ने बताया कि अमाही पम्प हाउस स्थित इन्टेकवेल से अशोकनगर शहर को जल प्रदाय किया जाता है.मोटरें चलाने के लिए लगातार बिजली की जरुरत होती है.पहले इन मोटरों को चलाने के लिए अशोकनगर शहर से विद्युत सप्लाई की जाती थी.परन्तु अव इसे बदलकर तूमैन फीडर से इसका कनेक् शन कर दिया गया है.जिससे शहर में जल संकट की स्थिती बन रही है. श्रीमति साहू ने बताया कि अमाही तालाब पर जो बिजली के खम्बे लगाए गये हैं वह भी पूर्व में नगरपालिका के द्वारा ही मोटर संचालन हेतु लगाए गये थे.इस संबंध में कार्यपालन यंत्री ने उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया है.ज्ञापन सोपने के दौरान नपा उपाध्यक्ष डॉ. हरवीर सिंह रघुवंशी, पार्षद श्रीमति रानी त्रिपाठी, ,श्रीमति वर्षा राजपूत,राशिद खान आदि उपस्थित थे.

Related Posts: