इंदौर,

नववर्ष की इससे बेहतर शुरूआत की कल्पना शायद विदर्भ ने भी नहीं की होगी, लेकिन उसने सात बार की चैंपियन दिल्ली को नौ विकेट से पराजित कर वर्ष 2018 के पहले दिन सोमवार को पहली बार रणजी चैंपियन बनकर इतिहास रच दिया।

विदर्भ ने रणजी ट्राफी के 2017-18 सत्र में कमाल की लय दिखाते हुये पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया था और 10 वर्षाें बाद अपने आठवें खिताब की तलाश कर रही दिल्ली को रोमांचक फाइनल मुकाबले के चौथे दिन सोमवार को ही पराजित कर पहली बार रणजी चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया।

विदर्भ ने पहली पारी में 547 का विशाल स्कोर बनाने के बाद दिल्ली को उसकी दूसरी पारी में 76 ओवर में 280 पर ढेर कर दिया।उसने दिल्ली से मिले 29 रन के मामूली लक्ष्य को दिन की समाप्ति से कुछ ओवर पहले हासिल कर जीत अपने नाम की।विदर्भ ने पांच ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 32 रन बनायेे जिसमें संजय रामास्वामी ने नाबाद 09 और वसीम जाफर ने नाबाद 17 रन बनाये।

Related Posts: