bpl1भोपाल,  सोमवार को हुई बैठक में स्कूली बसों के किराये का निर्धारण नहीं हो सका. अब 24 जून को एक बार फिर बैठक होगी, जिसमें किराया तय होने की उम्मीद है. बैठक में एडीएम, जिला शिक्षा अधिकारी, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी सहित स्कूल संचालक व उनके प्रतिनिधि उपस्थित थे.

दरअसल पिछले वर्ष परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह को अभिभावकों ने शिकायत की थी कि स्कूल संचालक मनमाना किराया वसूल रहे हैं. उनकी शिकायत थी कि जो किराया दो किलोमीटर की दूरी से आने वाले छात्र से लिया जा रहा है वहीं 10 किलोमीटर की दूरी से. इसको लेकर परिवहन मंत्री ने प्रदेश के समस्त कलेक्टर्स को स्कूली बसों का किराया निर्धारण के निर्देश दिये थे.

यहां बता दें कि गत शैक्षणिक सत्र में जनवरी माह में जिला प्रशासन ने किराया सूची निर्धारित कर दी थी, लेकिन स्कूल संचालकों के विरोध के चलते निरस्त करना पड़ा था.

Related Posts: