rajnathनयी दिल्ली,  गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि मुस्लिम धर्म प्रचारक डॉक्टर जाकिर नाईक के कथित भड़काऊ भाषण की जांच होने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नाईक के अपने भाषणों को लेकर विवादों में आने के बाद केंद्रीय गृहमंत्री की ओर से दिए गए इस पहले बयान में कहा गया है कि जाकिर के भाषणों पर सरकार की नजर है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद से किसी भी कीमत पर समझौता नहीं किया जाएगा।

आतंकवाद चाहे जिस रूप में भी हो उसकी निंदा होनी चाहिए। इससे ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि नाईक की जल्दी गिरफ्तार हाे सकती है। महाराष्ट्र सरकार नाईक के भाषणों की जांच का आदेश पहले ही दे चुकी है। शहरी विकास और सूचना प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू और तथा गृह राज्य मंत्री किरेन रिजीजू भी नाईक के खिलाफ कार्रवाई की बात कह चुके हैं। जाकिर नाईक अभी देश से बाहर हैं उसके वतन लौटने पर गिरफ्तारी हो सकती है।

इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के प्रमुख जाकिर नाईक ने अपने पुराने बयानों पर सफाई देने के बदले नया बयान जारी कर कहा है कि उन पर लगाए गए सारे आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने इस बाबत सऊदी से कुछ वीडियो क्लिप भी भेजी हैं। जिसमें वह भारतीय मीडिया को ही कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। वीडियो में वह कहते सुनाई पड़ रहे हैं कि उन पर लग रहे सभी आरोप बेबुनियाद हैं।