शिवराज राजनीति में नहीं आते तो किसी कंपनी के ब्रांड एम्बेसडर होते: नायडू

नवभारत न्यूजभोपाल,

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को महिला स्व-सहायता समूहों के लिए बड़ी घोषणाएं की. मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला स्व-सहायता समूहों को पांच करोड़ रुपए तक के लोन की गारंटी सरकार देगी और लोन का तीन प्रतिशत ब्याज अनुदान सरकार देगी.

यह अनुदान तीन लाख रुपए तक होगा. वहीं सम्मेलन को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि यदि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजनीति में नहीं आते तो वे किसी बड़ी कंपनी के ब्रांड एम्बेसडर होते.

यह सुनते ही सम्मेलन मौजूद लोगों ने तालियां बजाना शुरू कर दिया, वहीं सीएम चौहान भी मुस्कराने लगे. मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हमारी बहनें मल्टी नेशनल कंपनियों से भी अच्छे प्रोडक्ट बना रही हैं.

इनकी मेहनत काबिले तारीफ है, इसे देखते हुए सरकार ने फैसला लिया है कि स्व-सहायता समूह के सदस्यों से सरकार स्टांप ड्यूटी नहीं लेगी. एसएचजी के लोन की सरकार देगी गारंटीतीन प्रतिशत ब्याज अनुदानभी मिलेगा

अन्य प्रमुख घोषणाएं

  •  समूहों के फेडरेशन के अनाज भंडारण के लिए संकुल स्तर पर व्यवस्था की जाएगी.
  •  स्व-सहायता समूहों के उत्पाद बेचने के लिए सभी बड़े शहरों के शॉपिंग मॉल में भी दुकानें किराए से ली जाएंगी और बाजार स्थापित किए जाएंगे.
  •  मप्र में विकासखंड स्तर पर मिट्टी परीक्षण प्रयोगशाला के संचालन का काम भी स्व-सहायता समूहों को दिया जाएगा.
  • ग्रामीण क्षेत्र में बिजली के बिल स्व-सहायता समूह वसूलेंगे. उन्हें छह हजार रुपए महीना और 15 प्रतिशत प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. स्कूल यूनीफॉर्म सिलाई का काम भी महिला स्व-सहायता समूहों को दिया जाएगा. स्व-सहायता समूहों द्वारा तैयार की गई जैविक खाद, जैविक कल्चर और जैविक कीटनाशक सरकार खरीदेगी और इसे किसानों को सप्लाई जाएगी.

Related Posts: