sensexमुंबई. अप्रैल वायदा की एक्सपायरी से एक दिन पहले दिग्गज शेयरों में दबाव देखने को मिला है। दिग्गजों की पिटाई से बाजार में कल की तेजी आज टिक नहीं पाई। और, अंत में सेंसेक्स और निफ्टी 0.5 फीसदी से ज्यादा गिरकर बंद हुए हैं।
जानकार मान रहे हैं कि बाजार में एक्सपायरी के बाद भी कमजोरी बनी रहेगी। हालांकि बाजार में ज्यादा गिरावट संभव नहीं है। लिहाजा निवेशकों को धीरे-धीरे खरीदारी शुरू करने की सलाह दी जा रही है।

बाजार में हर अच्छी खबर मुनाफावसूली देखने को मिल रही है, ऐसे में बाजार को सरकारी नीतियों से अब ट्रिगर का इंतजार है। बाजार को जीएसटी बिल के पास होने से राहत मिलेगी। अप्रैल वायदा की एक्सपायरी पिछली सीरीज जैसी ही होगी, लेकिन मिडकैप में खराब नतीजों से गिरावट गहराएगी।

दिग्गजों की गिरावट के बावजूद आज मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में अच्छी खरीदारी नजर आई है। सीएनएक्स मिडकैप इंडेक्स 0.5 फीसदी बढ़कर 12650 के करीब बंद हुआ है, तो बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स में 1 फीसदी से ज्यादा मजबूत होकर 10960 पर बंद हुआ है।

आज एफएमसीजी, इंफ्रा, पावर, ऑटो और मेटल शेयरों में बिकवाली बाजार पर दबाव बना है। बीएसई का एफएमसीजी इंडेक्स 1.5 फीसदी से ज्यादा गिरा है। हालांकि रियल्टी, फार्मा, आईटी और बैंकिंग शेयरों में खरीदारी का रुझान है। बैंक निफ्टी 0.25 फीसदी से ज्यादा बढ़कर 18300 के ऊपर बंद हुआ है। सीएनएक्स रियल्टी इंडेक्स करीब 1 फीसदी बढ़कर बंद हुआ है।

सेंसेक्स 170 अंक यानि 0.6 फीसदी की गिरावट के साथ 27226 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं एनएसई का निफ्टी 46 अंक यानि 0.5 फीसदी की कमजोरी के साथ 8240 के स्तर पर बंद हुआ है।

आज के कारोबारी सत्र में दिग्गज शेयरों में आइडिया, भारती एयरटेल, आईटीसी, वेदांता, एचडीएफसी और टाटा मोटर्स सबसे ज्यादा 5.4-1.9 फीसदी तक गिरकर बंद हुए हैं।

हालांकि अंबुजा सीमेंट, एक्सिस बैंक, गेल, एचसीएल टेक, विप्रो, सन फार्मा और आईसीआईसीआई बैंक जैसे दिग्गज शेयर 3.4-1.1 फीसदी तक मजबूत होकर बंद हुए हैं। मिडकैप शेयरों में सिम्फनी, एआईए इंजीनियरिंग, रिसा इंटरनेशनल, वेलस्पन इंडिया और गृह फाइनेंस सबसे ज्यादा 10-8 फीसदी तक उछलकर बंद हुए हैं। स्मॉलकैप शेयरों में वेलस्पन कॉर्प, ओडिशा स्पॉन्ज, एनडीटीवी, एसआरएस फाइनेंस और जियोमीट्रिक सबसे ज्यादा 20-10.1 फीसदी तक बढ़कर बंद हुए हैं।

Related Posts: