nitishपटना, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के अति उग्रवाद प्रभावित गया और औरंगाबाद जिले की सीमा से लगे डुमरी नाला के पास नक्सलियों और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों को पांच लाख रूपये मुआवजा देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने नक्सलियों और सीआरपीएफ के मुठभेड़ में 10 जवानों के शहीद होने पर गहरा दुख व्यक्त किया ।

उन्होंने राज्य के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, पुलिस महानिदेशक पी.के.ठाकुर एवं गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी को गया जाकर स्थिति का जायजा लेने के साथ ही आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करने का निर्देश दिया । उन्होंने घायल जवानों को हर संभव चिकित्सीय सहायता उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया ।

मुख्यमंत्री ने सभी शहीद जवानों के निकटतम परिजन को राज्य सरकार की ओर से 5 लाख रूपये अनुग्रह अनुदान तुरंत उपलब्ध कराने तथा नक्सल जिलों में क्रियान्वित विशेष योजना के तहत शहीद जवानों के परिजनों को 20 लाख रूपये की बीमा राशि भी तुरंत उपलब्ध कराने का निर्देश दिया ।

मुख्यमंत्री की ओर से राज्य के मुख्य सचिव गया में शहीद जवानों के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। इस बीच मुख्यमंत्री श्री कुमार ने नक्सली और सीआरपीएफ जवानों के बीच हुई मुठभेड़ के संबंध में केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से दूरभाष पर बातचीत की और घटना के संबंध में उन्हें विस्तार से जानकारी दी ।

उन्होंने राज्य सरकार की ओर से इस संबंध में की जा रही कार्रवाइयों से भी अवगत कराया । उल्लेखनीय है कि नक्सल प्रभावित औरंगाबाद जिले के डुमरीनाला के जंगलों में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में कल दस जवान शहीद हो गये और दो अन्य घायल हो गये। इस मुठभेड़ में तीन माओवादी भी मारे गये हैं।

Related Posts: