delhi_fire1नयी दिल्ली,  फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) के ऑडिटोरियम के निकट स्थित नेशनल म्यूजियम अॉफ नेचुरल हिस्ट्री में आज तड़के आग लगने से म्यूजियम जलकर खाक हो गया तथा अग्निशमन विभाग के दो कर्मचारी झुलस गये। पुलिस सूत्रों ने बताया कि यह आग म्यूजियम की ऊपरी मंजिल में लगी और जल्दी ही अन्य मंजिलों में फैल गयी।

उन्होंने बताया कि घटनास्थल पर अग्निशमन विभाग के 40 वाहनों ने मिलकर चार घंटे चले संघर्ष के बाद आग पर काबू किया। उन्होंने बताया कि इस दुर्घटना में किसी की जान नहीं गयी। झुलसे लोगों को राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल सका है। अग्निशमन विभाग के सूत्रों ने बताया कि आग लगने के बाद कूलिंग ऑपरेशन चलाया गया है।

इमारत में अग्निशमन प्रणाली के ठीक से काम नहीं करने की वजह से आग ने भयानक रूप ले लिया। अग्निशमन विभाग के अधिकारी राजेश पंवार ने बताया कि यदि संग्रहालय की आग बुझाने वाली प्रणाली ठीक से काम कर रही होती तो इतना नुकसान नहीं होता।

उन्होंने कहा कि ढाई घंटे तक आग बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड को पानी का इतंजाम बाहर से करना पडा और संग्रहालय के गार्ड ने काफी देर से यह जानकारी दी कि संग्रहालय के अंदर भी पानी का एक टैंक है और यदि यह जानकारी पहले मिल जाती तो नुकसान को काफी कम किया जा सकता था।

इस बीच केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने बताया कि संग्रहालय वाली प्रापर्टी फिक्की की है और पर्यावरण मंत्रालय ने इस किराये पर लिया हुआ था। उन्होंने बताया कि इस हादसे में हुए नुकसान का जायजा लेने में दो से तीन दिन लग जायेंगे।