Akhilesh Yadavनोएडा,  राजनैतिक दल नोएडा को अपने भविष्य के लिए ‘मनहूस’ समझते हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश भी उन्हीं नेताओं में शुमार हैं, जिन्हें नोएडा की ‘मनहूसियत’ का डर खूब सताता है.

यही कारण है कि सीएम कभी नोएडा की सीमा में कदम नहीं रखते. 31 दिसंबर को पीएम मोदी के एक कार्यक्रम में भी अखिलेश इसी डर के कारण नहीं पहुंचेंगे. पीएम मोदी दिल्ली-मेरठ एक्स-प्रेसवे की नींव रखने के लिए नोएडा आ रहे हैं. पीएम के दौरे की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए पंचायती राज मंत्री कैलाश यादव को चुना गया है.

नोएडा के आईजी सतीश गणेश से जब पत्रकारों ने पीएम के कार्यक्रम के मद्देनजर अखिलेश के नोएडा आने की संभावनाओं के बारे में पूछा, तो उनका जवाब था,नोएडा में वही मुख्यमंत्री का प्रतिनिधित्व करेंगे. पीएम के कार्यक्रम में अब तक मिली जानकारी के मुताबिक केवल कैलाश यादव ही शामिल होंगे.

Related Posts: