नयी दिल्ली,

उच्चतम न्यायालय ने आज राजनेताओं द्वारा मीडिया में न्यायपालिका के सदस्यों के खिलाफ आरोप लगाने और देश के मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) के खिलाफ महाभियोग शुरू करने के वक्तव्य देने पर चिंता व्यक्त की।

न्यायमूर्ति एके सकरी ने न्यायपालिका के खिलाफ आरोप लगाने की मीडिया रिपोर्टों का जिक्र करते हुए कहा “हम सभी परेशान है यह क्या हो रहा है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।”

याचिकाकर्ता ने अदालत से अनुरोध किया है कि मीडिया को इस तरह की निंदनीय रिपोर्ट्स प्रकाशित करने से रोका जाना चाहिये। हालांकि शीर्ष अदालत ने कहा मामले की सुनवाई के बिना आदेश नहीं दिया जा सकता। शीर्ष न्यायालय ने इस मामले में अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल की सहायता लेने की बात कही है।