hardikअहमदाबाद.  आरक्षण आंदोलन को तेज करते हुए पटेल समुदाय की बहुलता वाले कुछ गांव बैंकों में जमा अपनी पूंजी को निकाल रहे हैं और खबर है कि एक को-ऑपरेटिव बैंक से एक ही दिन में करीब 20 लाख रूपये निकाले गए हैं।

लोगों ने पटेल समुदाय के आरक्षण आंदोलन के दौरान हुई कथित पुलिस ज्यादती के विरोध के तहत अपने गांवों में राजनीतिक नेताओं के घुसने पर भी रोक लगा दी है। बैनरों के जरिए राजनीतिक नेताओं को गांवों में न घुसने की कठोर चेतावनी दी जा रही है।

 

Related Posts: