pathankotपठानकोट,  खुफिया सूचनाएं मिलने के बाद पठानकोट के वायुसेना स्टेशन पर सुरक्षा बढा दी गयी है और देखते ही गोली मारने के आदेश जारी किए गए हैं.
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राकेश कौशल ने कहा कि इसी बीच सेना, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और पंजाब पुलिस ने लोगों में विश्वास की भावना भरने के लिए सीमांत गांवों में आज पांच घंटे संयुक्त फ्लैग मार्च किया.

उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों में संभावित भय को दूर करने के लिए ये उपाय किए जा रहे हैं. कौशल ने कहा कि सीमा पर खासकर जीरो लाइन के पास स्थित 20 गांवों में चौकसी बढा दी गयी है. उन्होंने कहा, ”मैंने सेना और बीएसएफ से इलाके की तलाशी में मदद मांगी है. पंद्रह वाहन सेवा में लगाए गए हैं जो ‘सबसे संवेदनशील’ के रूप में चिह्नित किए गए 20 गांवों की निगरानी कर रहे हैं.

इस साल दो जनवरी को सशस्त्र आतंकियों का एक समूह तड़के वायुसेना स्टेशन में घुस आया था और सात सुरक्षाकर्मियों की गोली मारकर जान ले ली थी. इसके बाद राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के शार्पशूटरों ने उन्हें मार गिराया. पठानकोट वायुसेना स्टेशन 16 वर्ग किलोमीटर से अधिक भूभाग में फैला हुआ है और वहां करीब 5,000 लोग रहते हैं.

Related Posts:

मायावती ने जारी की बसपा प्रत्याशियों की सूची
चतुर्वेदी को ओएसडी बनाएंगे केजरीवाल
सामाजिक विकास में भ्रष्टाचार मुख्य चुनौती-मोदी
असली गंदगी गलियों की धूल में नहीं बल्कि विभाजनकारी सोच में - राष्ट्रपति
वायुसेना के लिए एेतिहासिक दिन, तीन महिलाएं बनी लड़ाकू विमान की पायलट
मोदी ने नवनियुक्त मंत्रियों का संसद में कराया परिचय