mp5खंडवा,   वाहनों से होने वाले प्रदूषण पर दिल्ली के बाद खंडवा भी जाग रहा है। मंत्री से लेकर संतरी तक सायकल चलाने की होड़ में दिखे। मंत्री विजय शाह तो इस रैली के गियर वाली साइकिल पर पूर्व महापौर पत्नी भावना शाह को पीछे बैठा लाए।

बड़े बड़े लोग सायकल पर पैडल मारते दिखे। शहर विकास के नाम पर पांच साल में सबसे ज्यादा पेड़ों की बलि दी गई है। इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। पेड़ काटने के बदले कहाँ पौधे लगाए? वे कितने बड़े हो गए, इसका हिसाब नगर निगम के वृक्ष मित्र अधिकारियों के पास भी नहीं है। देर से ही सही,अब भी अमल होने लगे तो बड़ी बात।