रफी अहमद किदवई कृषि महाविद्यालय के
प्रोफेसर के घर हुई वारदात

नवभारत न्यूज सीहोर,

स्थानीय रफी अहमद किदवई कृषि महाविद्यालय की कॉलोनी में पांच सशस्त्र बदमाशों ने फिल्मी अंदाज में वारदात को अंजाम देते हुए करीब पच्चीस तोला सोना ले गए. कोतवाली पुलिस द्वारा डकैती का प्रकरण कायम करते हुए बदमाशों की सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी है.

पुलिस से मिली जानकारी अनुसार स्थानीय रफी अहमद किदवई कॉलेज में पदस्थ प्रोफेसर अशोक टिकले सेमीनार में भाग लेने हैदराबाद गए हुए हैं. उनके घर पर उनकी पत्नी माला टिकले, बेटा वैभव टिकले और 7 वर्षीय नातिन आरूषि टिकले मौजूद थे.

बताया जाता है कि बुधवार की रात को यह तीनों सदस्य अपने कमरों में सोने चले गए थे. बेटा वैभव अपने कमरे में और श्रीमती माला टिकले अपने कक्ष में नातिन आरुषि के साथ सो रही थीं.

बताया जाता है कि बीती देर रात करीब 3. 45 बजे खिड़की की ग्रिल को तोड़ते हुए बदमाशों ने दरवाजे की सिटकनी खोलकर भीतर प्रवेश किया. अंदर आए बदमाशों ने वैभव के कमरे को बाहर से बंद कर दिया और श्रीमती माया टिकले और नातिन के पलंग के पास दो लोग पहरा देने लगे.

इसके अलावा एक बदमाश बाहर पहरा दे रहा था. दो बदमाशों ने अलमारी का लॉक तोड़ दिया बदमाशों द्वारा पूरी अलमारी की तलाशी लेने के लिए सारा समान तितर बितर कर दिया गया इस बीच श्रीमती टिकले की नींद खुल गई लेकिन पहरा दे रहे बदमाशों ने उन्हें धमकाते हुए खामोश रहने को कहा.

आवाज सुनकर पास ही सो रही नातिन भी जाग गई और रोने लगी, लेकिन बदमाशों ने हाथो में थामी लाठियां दिखाकर उन्हें कम्बल में रहने के लिए विवश कर दिया.

चोरों ने अलमारी में रखे श्रीमती टिकले और उनकी बड़ी बेटी के करीब पच्चीस तौला सोने के जेवरातों पर हाथ साफ कर दिया. करीब आधे घंटे तक घर के सामान को उथल पुथल करने के बाद बदमाश इन्हें डराते हुए बाहर से दरवाजा बंद कर भाग खड़े हुए. घटना से हतप्रभ श्रीमती टिकले ने अपने बेटे वैभव को उठाया और पड़ोसियों की मदद से पुलिस को सूचना दी गई.

सूचना मिलने के बाद थाना प्रभारी अजय नायर भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए थे. श्रीमती टिकले ने पुलिस को बताया कि बदमाशों की उम्र 20 से 25 वर्ष की रही होगी इनमें से केवल एक बदमाश ठिगना था बाकि सभी शारीरिक रूप से हष्ट पुष्ट थे.

इनमें से किसी के द्वारा भी मारपीट नहीं की गई जिससे पुलिस के सामने यह बात साफ हो गई कि यह काम न तो कंजरों का है और न ही चड्डी धारी गिरोह का जिस प्रकार भाषा का इस्तेमाल बदमाश कर रहे थे. बहरहाल कोतवाली पुलिस द्वारा वैभव टिकले की सूचना पर पांच अज्ञात बदमाशों के खिलाफ डकैती का अपराध भादवि की धारा 395 के अंर्तगत कायम कर सरगर्मी से तलाश प्रारंभ कर दी है.