chekingजबलपुर,  ऑल इंडिया प्री-डेंटल एवं मेडिकल काउंसिल द्घारा आयोजित डीमेट परीक्षा संपन्न होने के बाद देर शाम निरस्त कर दी गई। जानकारी के मुताबिक सर्वर डाऊन होने के कारण परीक्षा का अधिकांश समय बर्बाद होने की वजह से परीक्षा रद्द करने का निर्णय लेना पड़ा।

एक्टिविस्ट पारस सकलेचा ने बताया प्रदेश के चौबीस सेंटरों एवं प्रदेश के बाहर बनाए गए 63 सेंटरों में कई जगह डेढ़ घंटे तक सर्वर डाऊन रहा। इसके अलावा सुरक्षा मानकों को लेकर परीक्षा सेंटरों में विवाद की स्थिति निर्मित हुई और ऐन वक्त पर परीक्षा सेंटर में बदलाव की वजह से कई अभ्यर्थी परीक्षा देने से वंचित रह गए। इन तमाम कारणों के मद्देनजर एपीडीएमसी ने परीक्षा रद्द करने के निर्देश जारी किए हैं। एक सप्ताह के अंदर यह परीक्षा पुन: आयोजित की जाने की संभावना है।

 सर्वर डाउन होने से व्यर्थ हुए डेढ़ घंटे

रविवार को हुई परीक्षा के बाद बड़ी संख्या में छात्रों ने अव्यवस्थाओं की शिकायत की थी। इंदौर और जबलपुर में परीक्षा सेंटर्स पर ज्यादा दिक्कतें आने के कारण पूरी परीक्षा ही निरस्त कर दी गई है। टेस्ट में देशभर से 18 हजार छात्र शामिल हुए थे। एपीडीएमसी के सचिव अनुपम चौकसे ने परीक्षा निरस्त करने की पुष्टि की है।

8 राज्यों में परीक्षा
पहली बार ऑनलाइन हुई डीमेट परीक्षा के लिए 8 राज्यों में 87 परीक्षा केंद्र थे. जबलपुर व भोपाल में 5-5 इंजीनियरिंग कॉलेजों में ही एक्जाम सेंटरों पर परीक्षा हुई.