19modiनयी दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के युवा अधिकारियों से आज कहा कि वे अपनी सेवा के पहले दस वर्षों में अधिक से अधिक जनसेवा करें। श्री मोदी ने 2013 बैच के आईएएस अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि अक्सर युवा अधिकारियों के नये विचारों को पुरानी पीढ़ी से प्रतिरोध का सामना करना पड़ता है लेकिन आगे बढ़ने और लोगों को साथ लेकर चलने का रास्ता कड़ी मेहनत से बनता है।

लोगों को साथ जोड़ना ही आगे बढ़ने की कुंजी है। प्रधानमंत्री ने इन अधिकारियों के साथ अपनी सरकार के अहम कार्यक्रमों के बारे में चर्चा की तथा उनसे इनके फायदे लोगों तक पहुंचाने के लिए काम करने को कहा। इन अधिकारियों ने केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में सहायक सचिव के तौर पर तीन महीने का प्रशिक्षण पूरा कर लिया है। यह आईएएस अधिकारियों का पहला बैच है जिनकी तैनाती सीधे केंद्र सरकार में हो रही है। इन अधिकारियों ने प्रधानमंत्री के समक्ष मुद्रा, सरकारी संवाद सुधारने, जनकेंद्रित सेवा निगरानी, एक भारत श्रेष्ठ भारत, भूमि स्वास्थ्य कार्ड और राष्ट्रीय खनिज खनन नीति जैसे विषयों पर अपनी प्रस्तुति दी।

Related Posts: