naved-hafeezनई दिल्ली, 20 अगस्त. ऊधमपुर में हाल में बीएसएफ के काफिले पर आतंकी हमले के दौरान पकड़े गए मोहम्मद नावेद आए दिन सनसनीखेज खुलासे कर रहा है.

नावेद ने अब खुलासा किया है कि आतंकियों के शिविर में प्रशिक्षण देने के लिए पाकिस्तानी सेना के अफसर और आईएसआई के अधिकारी भी आते थे. नावेद ने यह कबूला है कि वह 26/11 के हमलों के मास्टरमाइंड और जमात- उद-दावा के चीफ हाफिज सईद से कई बार मिल चुका है. उसे भारत पर हमले के लिए हाफिज सईद ने ही उकसाया था.

मुंबई हमलों का साजिशकर्ता हाफिज सईद चार बार उस आतंकी कैंप (लश्कर-ए-तोएबा का प्रशिक्षण कैंप) में आया था. राष्ट्रीय जांच एजेंसी की पूछताछ में पता चला है कि आतंकियों को प्रशिक्षित करने और उसके बाद उन्हें आतंकी हमलों का लक्ष्य देने के लिए बाकायदा पाकिस्तानी तंत्र सक्रिय रहता है.

आतंकियों के शिविर में प्रशिक्षण देने के लिए पाकिस्तानी सेना के अफसर और आईएसआई के अधिकारी भी आते थे. नावेद ने यह भी कबूला कि वह पाकिस्तानी नागरिक है और उसने लश्कर-ए-तोएबा के कैंप में प्रशिक्षण लिया है.

Related Posts: