इस्लामाबाद, पाकिस्तानी उच्चतम न्यायालय ने पनामा पेपर लीक निर्णय मामले में अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिजनों और वित्त मंत्री इश्हाक डार की समीक्षा याचिका विचारार्थ स्वीकार कर ली है इन याचिकाओं पर उच्चतम न्यायालय में 12 सितंबर को सुनवाई हाेगी।

समाचार पत्र “समा” में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार न्यायाधीश एजाज अफजल इस तीन सदस्यीय खंडपीठ की अगुवाई करेंगे और इसमे शामिल दो अन्य न्यायाधीश शेख अजमत सईद आैर न्यायाधीश एजाज उल एशहान हैं।

उच्चतम न्यायालय ने 28 जुलाई को अपने फैसले में नवाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद के अयोग्य घोषित कर दिया था और इसके बाद शरीफ परिवार ने इस फैसले के खिलाफ दो अलग अलग समीक्षा याचिकाएं दायर की थी। श्री डार ने अपनी समीक्षा याचिका में कहा है कि शरीफ परिवार की विदेशों में संपत्ति की जांच करने वाले संयुक्त जांच दल ने अपनी सीमाओं का अतिक्रमण किया है और यह फैसला उपयुक्त दस्तावेजाें की जांच किए बगैर दिया गया है।

Related Posts: