meeting1नयी दिल्ली,  भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों के बीच द्विपक्षीय मुद्दों पर खुलकर चर्चा हुई, पाकिस्तान ने जहां कश्मीर मसले के समाधान पर बल दिया वहीं भारत ने उससे दो टूक शब्दों में कहा कि आतंकवाद के मुद्दे पर ठोस प्रगति के बिना द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाना कठिन होगा। पाकिस्तान के विदेश सचिव ऐजाज अहमद चौधरी “हार्ट आफ एशिया-इस्तांबुल प्रोसेस” सम्मेलन में भाग लेने आज सुबह यहां पहुंचे।

श्री चौधरी और विदेश सचिव एस जयशंकर के साथ द्विपक्षीय बैठक सुबह 11 बजे साउथ ब्लाक में हुई। तकरीबन डेढ़ घंटे तक चली इस बैठक के बारे में सबसे पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने सोशल मीडिया पर जानकारी दी कि बैठक में पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर के मुद्दे का हल सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों और कश्मीरी लोगों की इच्छा के अनुरूप किया जाये।

Related Posts: