इस्लामाबाद,  पाकिस्तान ने अमेरिका को औपचारिक सूचना दे दी है कि उसके पास एफ-16 लड़ाकू विमानों को खरीदने के लिए धन नहीं है और अगर धन की व्यवस्था को लेकर उत्पन्न गतिरोध दूर नहीं किया गया तो वह अपनी जरूरत के लिए दूसरे लड़ाकू विमान को खरीदने की संभावना पर विचार कर सकता है.
पाकिस्तान के वित्त मंत्री इशाक डार ने अमेरिका के राजदूत डेविड हेल से भेंटकर उन्हें एफ-16 विमान को खरीदने के लिए धन की व्यवस्था न होने और दूसरे विमान को खरीदने की संभावना पर विचार की सूचना दे दी.

पाकिस्तान के वित्त मंत्री से अमेरिकी राजदूत की भेंट पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के कार्यालय में हुई. यह भेंट पिछले सप्ताह एफ-16 विमानों की खरीद को लेकर विवाद के सार्वजिनक रूप से सामने आने से पहले हुई. बैठक में प्रधानमंत्री के विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज, पाकिस्तान की वायुसेना के प्रमुख एयर मार्शल सुहेल अमन तथा विशेष सहायक तारिक फातमी भी उपस्थित थे. पाकिस्तान को एफ-16 विमान की खरीद के लिए सब्सिडी अमेरिका के फारेन मिलिट्री फाइनेन्सिंग की ओर से उपलब्ध कराई जानी थी और 27 करोड़ डालर की रकम पाकिस्तान को देनी थी. लेकिन अमेरिकी कांग्रेस ने इसकी स्वीकृति नहीं दी.