millitantsनई दिल्ली,  पाकिस्तान से गुजरात के रास्ते देश में दाखिल होने वाले 10 संदिग्ध आतंकवादियों में से तीन आतंकियों को सुरक्षा बलों ने मार गिराया है. ये आतंकवादी गुजरात के रास्ते भारत में दाखिल हुए थे और इनकी मंशा महाशिवरात्रि के मौके पर देश में आतंकी हमले करने की थी. आज एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई.

एक खबर के मुताबिक सुरक्षा अधिकारियों ने लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के संदिग्ध 10 आंतकवादियों की लोकेशन का पता लगाया और इसमें से तीन आतंकवादियों को मार गिराया जबकि बाकी बचे आतंकियों पर नकेल कसने के लिए एक बड़ा तलाशी अभियान चलाया जा रहा है.

मीडिया रिपोर्टों में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि इन आतंकियों की लोकेशन देश के पश्चिमी हिस्से में पायी गई है. सुरक्षा अधिकारी बाकी बचे आतंकियों को जिंदा पकडऩा चाहते हैं ताकि उन्हें सबूत के तौर पर पेश किया जा सके. यही नहीं, आतंकियों की मंशा सोमनाथ मंदिर पर हमला करने की थी जिसे नाकाम कर दिया गया है.

आईएसआई से जुड़े होने के कारण पाकिस्तानी राजनयिकों को नहीं मिली वल्र्डकप देखने की अनुमति भारत ने पांच पाकिस्तानी राजनयिकों को कथित ‘आईएसआई और डिफेंसÓ लिंक के कारण विश्वकप टी-20 क्रिकेट मैच देखने के लिये कोलकाता की यात्रा करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया.

Related Posts:

राज्य में मौकापरस्ती की राजनीति रह गई
दिल्ली-चंडीगढ़ रेलमार्ग को सेमी हाईस्पीड बनाने का काम एक साल में होगा शुरू
पूर्व सैनिकों को फांस रही है आईएसआई
चीन के सैनिकों ने फिर की घुसपैठ, भारत में 6 किमी अंदर तक घुसे
भारत उदय अभियान 14 से, प्रधानमंत्री करेंगे शुभारंभ
आपदा जोखिम में कमी के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्यापक सहयोग जरूरी : मोदी