पुलिस ने मामला दर्ज कर किया गिरफ्तार

नवभारत न्यूज भोपाल,

अवधपुरी इलाके में दो महीने पहले बीकॉम छात्रा द्धारा फांसी लगाने के मामले में पुलिस ने जांच के बाद पिता के विरूद्ध मामला दर्ज कर लिया है.

पुलिस का कहना है कि जांच के बाद सामने आया है कि छात्रा ने डर की वजह से फांसी लगाई थी. अवधपुरी पुलिस ने पिता को गिरफ्तार कर लिया है.

गौरतलब है कि शंकर राव पराडकर विजय लक्ष्मी होम्स अवधपुरी में रहते हैं. वे सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी हैं. उनकी 23 वर्षीय बेटी ऐश्वर्या बीफॉर्मा पास आउट करने के बाद नौकरी की तलाश कर रही थी.

19 अक्टूबर की रात ऐश्वर्या ने फांसी लगाकर जान दे दी थी. इसके बाद पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना शुरू की थी. पुलिस को अंग्रेजी में लिखा सुसाइड नोट भी मृतिका के पास से बरामद हुआ था. सुसाइड नोट में मृतिका ने लिखा था कि उसके पिता शराब पीकर घर आते हैं और मां व भाई से गाली गलौज करते हैं.

घटना के एक दिन पूर्व जब वे मां व भाई से गाली गलौज कर रहे थे, तभी ऐश्वर्या ने उन पर हाथ उठा दिया था, जिसका उसने सुसाइड नोट में जिक्र किया था. उसने कहा था कि उसने पिता पर हाथ तो उठा दिया, लेकिन अब वे उसे छोड़ेंगे नहीं. इसके चलते छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी थी.

पुलिस ने अंतिम लाइन को बनाया आधार

पुलिस ने पिता को आरोपी छात्रा के पास से मिले सुसाइड नोट की आखिरी लाइन के आधार पर बनाया है, जिसमें छात्रा ने लिखा था कि उसने हाथ तो उठा दिया, लेकिन पिता जिंदा नहीं छोड़ेंगे, वे मुझे मार देंगे. बहुत डर लग रहा है, समझ नहीं आ रहा कि क्या करूं? अपनी जान देकर ही सबकुछ ठीक कर सकती हूं. इसके बाद उसने फांसी लगा ली थी.

Related Posts: