गोल्ड कोस्ट,

भारोत्तोलक पी गुरूराजा ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के पहले दिन गुरूवार को पुरूषों के 56 किग्रा भार वर्ग में रजत पदक जीतकर इन खेलों में भारत का खाता खोल दिया।

25 साल के गुरूराजा ने खेलों के पहले ही दिन अपने 56 किग्रा भार वर्ग में कुल 249 किग्रा भार उठाकर फाइनल में दूसरा स्थान हासिल किया और रजत पर कब्जा जमाया। यह भारतीय खिलाड़ी का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है। भारतीय वायु सेना में कार्यरत गुरूराजा ने स्नैच में 111 और क्लीन एंड जर्क में 138 किग्रा भार उठाया।

गुरूराजा का प्रदर्शन इसलिये भी मायने रखता है क्योंकि स्पर्धा में उनके साथ स्पर्धा में मलेशिया के तीन बार के राष्ट्रमंडल चैंपियन मुहम्मद इजहार अहमद भी थे जिन्होंने खेलों में स्नैच का रिकार्ड तोड़ा। मुहम्मद ने कुल 261 किग्रा भार उठाया और स्वर्ण पर कब्जा किया। वहीं श्रीलंका को कांस्य पदक मिला।

गुरूराजा स्नैच के बाद तीसरे स्थान पर खिसक गये थे लेकिन उन्होंने दो प्रयासों में अपना सर्वश्रेष्ठ 111 किग्रा भार उठाकर स्थिति बेहतर कर ली। वहीं क्लीन एंड जर्क में उन्होंने 138 किग्रा भार उठाया। हालांकि इससे पहले उनके दो प्रयास विफल भी रहे थे लेकिन अपने आखिरी प्रयास में उन्होंने दूसरा स्थान पा लिया।

वहीं मलेशियाई खिलाड़ी मुहम्मद ने हमवतन हमीजान अमीरूल इब्राहिम के स्नैच में वर्ष 2010 खेलों में बनाये गये 116 किग्रा के स्नैच रिकार्ड को तोड़ते हुये 117 किग्रा भार उठाया। उन्होंने फिर खेलों का ओवरऑल रिकार्ड भी तोड़ा जो अब तक इब्राहिम के ही नाम था और क्लीन एंड जर्क में फिर 144 किग्रा भार उठाकर स्वर्ण अपने नाम कर लिया।

तीसरा स्थान श्रीलंका के लकमल चातुरंगा को मिला जिन्होंने स्नैच में 114 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 134 किग्रा भार उठाया और कांस्य अपने नाम किया।

Related Posts: