myanmarयांगून,   आंग सान सू की आखिरकार म्यांमार की राष्ट्रपति बनने की रेस से बाहर हो गईं. आंग सान सू की पार्टी एनएलडी ने उनके खास विश्वासपात्र ह्तिन क्यॉ को राष्ट्रपति के लिए नामांकित किया है. इकनॉमिक्स से ग्रेजुएट 69 साल के ह्तिन क्यॉ फिलहाल सू की चैरिटेबल फाउंडेशन चलाते हैं. वह कभी आंग सान सू की के ड्राइवर थे. अब वह म्यांमार के राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं.

म्यांमार की संसद जल्द ही नए राष्ट्रपति चुनने जा रही है. इस चुनाव में सबसे प्रत्याशित उम्मीदवार की भागीदारी नहीं होने जा रही है. आंग सान सू की नेशनल लीग फोर डेमोक्रेसी (एनएलडी) तीन दशक तक बहुमत में रही है. कई बार सू को अंडर हाउस अरेस्ट भी रखा गया. उन्हें देश के सबसे ऊंचे पद की रेस में शामिल होने से रोक दिया गया है.

ऐसे में सत्ताधारी मिलिटरी जुंटा ने 2008 में जिस संविधान को ड्राफ्ट किया था उसकी एक धारा का शुक्रगुजार होना चाहिए. हालांकि तब लोगों का मानना था कि इस धारा के कारण आंग सान सू अपने लोगों को इस पद पर नहीं बैठा पाएंगी.

सू की की नैशनल लीग फोर डेमोक्रेसी के निचले सदन के एक सांसद क्हिन सान ह्लांग ने कहा, एनएलडी की ओर से मैं यू ह्तिन क्यॉ का नाम प्रस्तावित करता हूं. एनएलडी उच्च सदन के लिए भी एक अन्य प्रत्याशी को नामांकित करेगी.

Related Posts: