लंदन/मास्को,

रुस के पूर्व जासूस सर्गेइ स्क्रिपल की बेटी यूलिया के पहले से बेहतर होने संबंधी एक वक्तव्य के सार्वजनिक होने के बाद ब्रिटेन में गत माह जहर देकर बाप-बेटी को मारने को लेकर हुए हमले के मामले में एक नया मोड़ आ गया है।

यूलिया स्क्रिपल ने हालांकि घटना पर कोई नया प्रकाश डाले बगैर अपने वक्तव्य में कहा कि वह पहले से बेहतर महसूस कर रही हैं। यूलिया ने कहा,“मैं एक हफ्ते पहले जाग उठी और मुझे खुशी है कि मेरी ताकत हरेक दिन बढ़ रही है। मुझ में दिलचस्पी और प्राप्त सद्भावना के कई संदेशों के लिए मैं आभारी हूं।”

गत चार मार्च को नर्व अटैक के बाद स्क्रिपल (66) और उनकी बेटी यूलिया (33) ब्रिटेन के सैलिसबरी के अस्पताल में हैं। सैलिसबरी में एक बेंच पर अचेतावस्था में पाये जाने के बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती किया गया था।

ब्रिटेन की सरकार ने स्क्रिपल पर हुए हमले को अंजाम देने का आरोप रूस पर लगाया है। लेकिन ब्रिटेन में रूस के राजदूत का कहना है कि मॉस्को के के पास नर्व गैस का कोई स्टॉक नहीं है। इस घटना का प्रमुख कूटनीतिक असर हुआ तथा रुस और पश्चिमी देशों ने बड़े पैमाने पर एक-दूसरे के राजनयिकों को निकाल बाहर किया।

स्क्रिपल की दशा इंटेसिव केयर में स्थिर बनी हुई है वहीं यूलिया के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हुआ है। यूलिया ने ब्रिटेन पुलिस के हवाले से कल जारी एक वक्तव्य में अस्पताल कर्मचारियों तथा लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया जिन्होंने ‘असमर्थता’ की स्थिति में उनके पिता और उनकी मदद की।

यूलिया ने अपने संक्षिप्त वक्तव्य में घटना के बारे में कोई जिक्र नहीं किया है। लेकिन उनके स्वास्थ्य में सुधार का मतलब है कि वह ब्रिटेन पुलिस की जांच में मदद कर सकती है जो स्क्रिपल और उनकी बेटी पर हुए जानलेवा हमले की घटना की जांच कर रही है।

ब्रिटेन के विदेश विभाग ने कहा कि यूलिया को रुसी दूतावास ने मदद की पेशकश की थी लेकिन उसने अभीतक उसे लेने से इंकार किया है।

ब्रिटिश पुलिस की ओर से जारी यूलिया के वक्तव्य के जारी होने के चंद घंटे पहले ही रुसी सरकारी टीवी और इंटरफैक्स की ओर से जारी रिपोर्ट में कहा गया कि यूलिया ने रुस स्थित अपने चचेरी बहन विक्टोरिया स्क्रिपल से फोन पर बातचीत में कहा कि वह और उसके पिता के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है तथा शीघ्र ही अस्पताल से मुक्त हो जाने की संभावना है।

अपने पिता के स्वास्थ्य के बारे में पूछे जाने पर यूलिया के हवाले से कहा गया,“सब कुछ ठीक है, वह अभी आराम कर रहे हैं, सो रहे हैं … किसी को भी कोई समस्या नहीं है।”

विक्टोरिया ने कहा है कि विजा मिलने पर वह इंग्लैंड की यात्रा कर सकती हैं।

Related Posts:

यरूशलेम संग्रहालय के स्मरण हॉल का अवलोकन करते राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी
अमेरिका ने पाकिस्तान के लिए रखा 58 अरब की मदद का प्रस्ताव
‘आतंकवाद फैलाने वाले देशों’ के लोगों पर लगे रोक : ट्रम्प
आईएस से लडने में मदद करे अलगाववादी, माओवादी : दुतर्ते
अमेरिका के इतिहास की सबसे घातक गोलीबारी, 58 लोगों की मौत, 500 से ज्यादा लोग घायल
ट्रंप बुुधवार काे मिसौरी की यात्रा पर जाएंगे