one renk pensionनई दिल्ली, 14 जून. वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे पर पूर्व सैनिक जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस प्रदर्शन में देश के अलग-अलग हिस्सों से पांच हजार से अधिक पूर्व सैनिक शामिल हैं।

वन रैंक वन पेंशन लागू न होने से नाराज़ पूर्व सैनिक राष्ट्रपति से मिलकर उन्हें अपना मेडल वापस करने भी जा सकते हैं। सोमवार यानी कल से ये लोग भूख हड़ताल पर बैठेंगे। पूर्व सैनिकों की मांग है कि सरकार वन रैंक वन पेंशन लागू करने की निश्चित तारीख घोषित करे। पूर्व सैनिकों के संगठन युनाइटेड एक्स-सर्विसमेन ऑफ इंडिया के मुताबिक, देश भर के 55 केंद्रों पर प्रदर्शन किया जा रहा है। जम्मू, जालंधर, अंबाला, तिरुवनंतपुरम, मदुरै, मुंबई, विशाखापट्टम, हैदराबाद, सिंकदराबाद, बेंगलुरू, कोलकाता, भुवनेश्वर, अहमदाबाद, सूरत, वड़ोदरा, पुणे, नासिक, चांदीपुर, नागपुर, भोपाल, मेरठ, चेन्नई, जयपुर, नागौर, अलवर और कोटा सहित अन्य स्थानों में प्रदर्शन किए जा रहे हैं। इससे पहले पूर्व सैनिकों ने इस मुद्दे पर सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और वित्तमंत्री अरुण जेटली से मुलाक़ात की, लेकिन कुछ बात नहीं बनी।

Related Posts: