नयी दिल्ली,  राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने आधारभूत नवाचार और उत्कृष्ट पारम्परिक ज्ञान के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले 55 लोगों को आज सम्मानित किया।

श्री मुखर्जी ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित सप्ताह भर के नवप्रवर्तन उत्सव के दौरान इन सभी लोगों को सम्मानित किया। इनमें गुजरात के 82 वर्षीय भंजीभाई मथुकिया को कृषि से संबंधित कई नये तरीके विकसित करने के लिए लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान किया गया। श्री मथुकिया ने कम लागत का चेक बांध, बैलगाड़ी से संचालित स्प्रेयर आदि का निर्माण किया है।

इनके अलावा मेघालय के खासी जैन्तिया समुदाय, उत्तर प्रदेश के सुरेन्द्र प्रसाद, नागालैंड के मोआ सुबोंग, पुड्डुचेरी के टी वेंगडापति रेड्डियार, गुजरात की लाडूबेन सोमाभाई भाम्भी और श्रावक कर्षणभाई गोविंदभाई तथा वल्लभभाई वसरामभाई मरवानिया, असम के नवजीत भराली, राजस्थान के श्रवण कुमार बाज्या, दीप्तांशु मालवीय और मुकुल मालवीय, मदन लाल कुमावत, मदन लाल देवड़ा, हिमाचल प्रदेश के हरिमन शर्मा, बिहार के शेक हेबाजत हुसैन, तेलंगाना के के पांडुरंगा राव को सम्मानित किया गया। गुजरात के पुरुषोत्तमभाई पटेल को मरणोपरांत पुरस्कार दिया गया।

नवप्रवर्तन के लिए अड़तीस लोगाें और समुदायों को राज्य पुरस्कार प्रदान किये गये।

Related Posts: