मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान नदी सफाई अभियान में केंद्र के अभी तक घिसट रहे गंगा एक्शन प्लान से कहीं आगे जाकर स्वच्छ नर्मदा परियोजना को देश में सबसे आगे ले आये हैं.

24 जनवरी को नर्मदा जयंती के अवसर पर नर्मदा को प्रदूषण मुक्त बनाये रखने के लिये 130 करोड़ 16 लाख रुपये के 5 कार्यों का भूमिपूजन व शिलान्यास किया. यह कार्यक्रम 5 जिलों सीहोर में बुदनी, देवास में नेमावर, अनूपपूर में अमरकंटक, डिंडोरी और खरगौन में मंडलेश्वर में हुए.

नर्मटा तट पर 44 नगरीय निकायों में 6 करोड़ रुपयों के काम कराये जा चुके हैं.मुख्यमंत्री ने नर्मदा जयन्ती पर अमरकंटक, डिन्डोरी और बुधनी में 93 करोड़ रुपयों की लागत से सीवेज ट्रीटमेंट संयंत्रों का शिलान्यास किया.

गत वर्ष श्री चौहान की नर्मदा सेवा यात्रा नमामि नर्मदे विश्व की सबसे बड़ा नदी संरक्षण अभियान माना गया. 23 विभागों को जोडक़र नर्मदा सेवा मिशन का गठन किया गया है. नर्मदा तट पर 20 नगरीय निकायों में 21 सीवेज परियोजनाएं चल रही हैं.

Related Posts: