lucknowलखनऊ,  हवा में तेजी से फैलता प्रदूषण आज विश्वस्तरीय चिंता का मुद्दा बनकर उभर रहा है. वह हवा जो हमारे लिए प्रणवायु है, दरअसल उसमें जहर घुल चुका है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (ष्टक्कष्टक्च) की रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ की हवा देश में सबसे ज्यादा जहरीली है और दिल्ली इस श्रेणी में चौथे स्थान पर है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एयर क्वॉलिटी इंडेक्स बुलेटिन के मुताबिक बुधवार को लखनऊ की इंडेक्स वैल्यू 471 नोट की गई जबकिदिल्ली का इंडेक्स वैल्यू – 382 रहा. वाराणसी, आगरा और जोधपुर इस लिस्ट में क्रमश: पांचवें, छठे और सातवें नंबर पर हैं. लखनऊ का इंडेक्स वैल्यू – 471 होने के कारण उसे रेड जोन में रखा गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक, लखनऊ की हवा में पार्टिक्युलेट मैटर -2.5 है जिसके कारण हवा जहरीली हो गई है. बोर्ड ने लोगों को अलर्ट जारी कर दिया है कि वे घर पर ही रहें और अगर बाहर निकलें तो मास्क पहनकर निकलें. दिल्ली में सुबह एक्यूआई 495 था जो शाम तक घटकर 382 रह गया. कानपुर और फरीदाबाद इस लिस्ट में दूसरे और तीसरे नंबर पर हैं.

बोर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक कानपुर और फरीदाबाद का एक्यूआई 429 और 402 नोट किया गया, वहीं वाराणसी, आगरा और जोधपुर का एक्यूआई
क्रमश: 376, 359 और 345 नोट किया गया. प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए दिल्ली सरकार एक जनवरी से ऑड-ईवन कार नंबर वाली स्कीम 15 दिनों के लिए लागू करने वाली है. जिसके तहत एक दिन सड़कों पर ऑड नंबर वाली कारें दौड़ेंगी और एक दिन ईवन नंबर वाली कारें दौड़ेंगी.

Related Posts:

फिर पनप सकता है पंजाब में आतंकवाद
मोदी राज में कुछ नहीं बदला, उद्योग जगत बेचैन: पारेख
गरीबों का हक छीनने वाला विकास नहीं चाहिए: राहुल
गुजरात में वर्षा से 70 की मौत, जम्मू कश्मीर में भी गहराया बाढ़ का संकट
कांग्रेस के बजाय अपनी पार्टी पर ध्यान दें सुखबीर: बिट्टूू
भाजपा ने मनीष के बयान पर मनमोहन और एंटनी से मांगा जवाब