भोपाल,  कांग्रेस द्वारा आज पुलिस महानिदेशक को ज्ञापन सौंपकर पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव पर जानलेवा हमला कर उन्हें गंभीर रूप से घायल करने की शिकायत की है.

ज्ञातव्य हो कि 16 जनवरी को दोपहर करीब 2 बजे जब मध्यप्रदेश एनएसयूआई द्वारा गत दिनों कटनी में हुये 500 करोड़ के हवाला कांड की जांच कर रहे पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के स्थानांतरण को निरस्त कराने एवं संपूर्ण कांड की जांच कराने तथा घोटाले में शामिल राज्य मंत्री संजय पाठक को मंत्रिमंडल से हटाने की मांग को लेकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया गया. इस प्रदर्शन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव व अन्य को गंभीर चोटें आईं थी.

ज्ञापन में कहा गया है कि प्रदर्शन का नेतृत्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव पूर्व केंद्रीय मंत्री और दो-दो बार सांसद रह चुके हैं. उन्हें पुलिस कर्मी अच्छी तरह से जानते भी हैं, प्रदर्शन को रोकने के अवसर पर कहा गया कि यही हैं प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, इसी को मारो, ठीक कर दो, भाग ना पाये. उक्त घटनाक्रम के दौरान पुलिस कर्मियों द्वारा अरुण यादव के साथ बहुत अधिक मारपीट की गई जिससे उनके हाथ-पैर एवं सिर में चोट आई जिसका इलाज जयप्रकाश नारायण अस्पताल (1250) एवं चिरायु अस्पताल भोपाल में किया जा रहा है.

कांग्रेस ने पुलिस महानिदेशक को ज्ञापन सौंपते हुये आग्रह किया है कि जानबूझकर पहचान कर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव के साथ बर्बतापूर्वक मारपीट किसके आदेश पर की गई या इसके पीछे किसके द्वारा षडयंत्र रचा गया, इसकी संपूर्ण जांच की जाये तथा दोषियों के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज कराये जायें जिससे कि प्रदेश के अंदर प्रजातांत्रिक तरीके से कार्य कर रहे विपक्ष को बलपूर्वक दबाकर उसका मुंह बंद करने का प्रयास नहीं किया जाये जो कि न्यायोचित एवं न्यायहित में होगा.

Related Posts: