arunनयी दिल्ली,  अगस्ता वेस्टलैंड मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसद के बाहर दिये गये बयान पर उन्हें घेरने में जुटी कांग्रेस पर पलटवार करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज राज्यसभा में कहा कि प्रधानमंत्री के चुनावी भाषण में भ्रष्टाचार पर बोलने पर रोक नहीं लगायी जा सकती।

कांग्रेस के एक सदस्य द्वारा इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के खिलाफ विशेषाधिकार हनन के प्रस्ताव का जिक्र किये जाने पर श्री जेटली ने कहा कि संसद के बाहर एक नेता का दूसरे नेता के खिलाफ चुनावी भाषण कब से विशेषाधिकार हनने की श्रेणी में माना जाने लगा।
उन्होंने कहा कि चुनाव के राजनीतिक भाषण एक नेता के दूसरे नेता के खिलाफ प्रचार का हिस्सा होते हैं।

Related Posts:

बंधक नीति बनाने पर विचार करेगी सरकार : चिदम्बरम
भूषण ने इस्तीफे की खबर को किया खारिज: मैंने सिर्फ मुद्दे उठाएं
वसुंधरा ने दस्तखत की बात मानी!
मार्च तक होंगे देश के 410 जिले शत-प्रतिशत साक्षर
सरकारी कैलेंडर 2016 में प्रधानमंत्री की विकासोन्मुख नीतियों की झलक: जेटली
भारत मालदीव हिन्द महासागर में रक्षा सहयोग बढ़ायेंगे