नयी दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जर्मनी, स्पेन, रूस और फ्रांस की एक सप्ताह की महत्वपूर्ण यात्रा पर आज  पूर्वाह़न रवाना हाे गये। प्रधानमंत्री पूर्वाह्न लगभग 11:15 बजे रवाना हुए और वह शाम करीब 07:15 बजे जर्मनी की राजधानी बर्लिन पहुंचेंगे। श्री मोदी के साथ केन्द्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन, ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल, वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर भी जा रहे हैं।

अपनी यात्रा से पूर्व श्री मोदी ने कल यहां जारी एक बयान में कहा, “ मैं 29 तथा 30 मई को जर्मनी की यात्रा पर रहूंगा। भारत और जर्मनी बड़े लोकतंत्र हैं और वैश्विक तथा क्षेत्रीय स्तर पर दोनों देशों की महत्वपूर्ण भूमिका है। दोनों देशों की रणनीतिक साझेदारी लोकतांत्रिक मूल्यों पर आधारित है और भारत के लिए जर्मनी विकास मार्ग पर महत्वपूर्ण साझेदार है।” जर्मनी पहुंचने पर वहां की चांसलर एंजेला मर्केल अपने सरकारी आवास मेसेबर्ग कंट्री रिट्रीट में श्री मोदी का स्वागत करेंगी और दोनों नेता परस्पर हितों के मुद्दों पर विचार विमर्श करेंगे।

तीस मई को चांसलर और प्रधानमंत्री चौथे ‘भारत -जर्मनी अंतरसरकारी परामर्श ’की सह अध्यक्षता करेंगे। दोनों नेता एक व्यापारिक सम्मेलन में भाग लेंगे। उसी शाम श्री मोदी जर्मनी के राष्ट्रपति फ्रेंक वाल्टर स्टींमियर से भी मिलेंगे। श्री मोदी ने कहा कि जर्मनी में वह चांसलर मार्केल के साथ दोनों देशों के बीच भविष्य की रणनीति पर विचार विमर्श करेंगे और इस दौरान व्यापार, निवेश, सुरक्षा, आतंकवाद की समस्या, विज्ञान और तकनीकी तथा कौशल विकास जैसे मुद्दों पर गहन रूप से चर्चा होगी। उन्होंने उम्मीद जतायी कि इस यात्रा से जर्मनी के साथ परस्पर सहयोग के नए द्वार खुलेंगे।

Related Posts: