cbiनयी दिल्ली,  केन्द्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) ने आम आदमी पार्टी के नेताओं द्वारा लगाए जा रहे अाराेपो का खंडन करते हुए कहा हेै कि कल मारे गए छापे में केवल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के प्रधान सचिव राजेन्द्र कुमार से जुडी फाइलें ही उठाई गई थीं इस दौरान न तो मुख्यमंत्री के कार्यालय की तलाशी ली गई और न ही उसे सील किया गया।

मुख्यमंत्री श्री केजरीवाल अौर उनकी आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि सीबीआई श्री कुमार के साथ ही मुख्यमंत्री कार्यायल की फाइलें भी उठा कर ले गई है।

सीबीआई की प्रवक्ता देवप्रीत सिंह ने आज यहां संवाददाताओं से कहा की सीबीआई के खिलाफ यह गलत प्रचार किया जा रहा है । एेसा कुछ नहीं किया गया है। केवल श्री कुमार और श्री केजरीवाल के निजी सहायक की फाइलों की जांच हो रही है। सीबीआई ने यह सब उसे मिली शिकायत पर संज्ञान लेते हुए स्वंय किया है। शिकायत की स्वतंत्र रुप से पुष्टि करने के बाद ही यह कदम उठाया गया ।

प्रवक्ता ने कहा कि छापे के दौरान किसी भी व्यक्ति को मुख्यमंत्री कार्यालय सहित सचिवालय के किसी भी हिस्से में जाने से नहीं रोका गया था। केवल श्री कुमार और मुख्यमंत्री के निजी सहायक के दफ्तर पर लोगों के आने जाने पर रोक लगाई गई थी। उन्होंने कहा कि तय नियमों के अनुसार छापे के दौरान वहां निष्पक्ष प्रत्यक्षदर्शियों की मौजूदगी भी थी।

सीबीआई ने कहा वह इस बात का पुरजोर खंडन करती है कि छापे के दौरान ऐसे कोई दस्तावेज जब्त किए गए जिनका जांच से कोई लेना देना नहीं था। कुछ लोग जांच एजेंसी की छवि बिगाडने के लिए लगातार कल से इस तरह की गलत बयानबाजी कर रहे हैं । उन्होंने कहा कि जो भी फाइलें उठायी गई है उन्हें अदालत के सामने पेश किया जाएगा।

Related Posts: