pranab1नागपुर,  राष्ट्रपति प्रणव मुखजी ने आज कहा कि सरकार के ‘स्टार्ट अप इंडिया, स्टैंड अप इंडिया’ अभियान की सफलता नवोन्वेषी प्रौद्योगिकी और देश में उपलब्ध मानव संसाधनों के सही समन्वय पर निर्भर करेगी।

श्री मुखर्जी ने विश्वेश्वरैया राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (वीएनआईटी) के 13वें दीक्षांत समारोह में कहा कि उद्यमिता एवं रोजगार सृजन के लिए शुरू किया गया यह अभियान तभी सफल होगा जब नयी-नयी प्रौद्योगिकी एवं मानव संसाधन का बेहतर इस्तेमाल हो सके। उन्होंने युवा प्रौद्योगिकीविदों से अपील की कि वे नौकरी खोजने के बजाय अपना उद्यम लगाने का प्रयास करें ताकि दूसरों के लिए रोजगार सृजन हो सके और इससे देश एवं समाज का भला हो।

Related Posts: