18lakhviलाहौर, 12 जुलाई. पाकिस्तान सरकार मुंबई आतंकवादी हमला के मामले में लश्कर ए तैयबा के ऑपरेशन कमांडर जकी उर रहमान लखवी की आवाज के नमूने हासिल करने के लिए आतंकवाद निरोधी अदालत में कोई नई याचिका दायर नहीं करेगी। अभियोजन टीम के प्रमुख चौधरी अजहर ने रविवार को यह कहा।

उफा (रूस) में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ की बैठक के दो दिनों बाद अजहर की यह टिप्पणी आई है। बैठक में मुंबई मामले की सुनवाई पाकिस्तान में तेज करने के तौर-तरीकों पर चर्चा करने की सहमति बनी जिनमें आवाज के नमूने मुहैया करना जैसी अतिरिक्त सूचना शामिल है। चौधरी ने बताया हमने भारत को लिखित में कहा है कि पाकिस्तान में ऐसा कोई कानून नहीं है जो किसी आरोपी के आवाज के नमूने हासिल करने की इजाजत देता हो।

भारत और अमेरिका तक में भी ऐसा कोई कानून नहीं है।Ó उन्होंने कहा कि ऐसा कानून सिर्फ पाकिस्तान की संसद के जरिए ही बन सकता है।

Related Posts: