म्यांमार प्रोफेसर ने सांची विवि के छात्रों और प्राध्यापकों से की भेंट

नवभारत न्यूज रायसेन,

म्यान्मार के अंतर्राष्ट्रीय संबोधि संस्थान की प्रो.डा. संदार सॉव ह टुट ने सांची बौद्ध भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय के प्राध्यपकों और छात्रों और शोधार्थियों से भेंट की।

डा. सॉव ह टुट ने विश्वास जताया है कि म्यान्मार के अंतर्राष्ट्रीय संबोधि संस्थान और सांची विश्वविद्यालय के बीच स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम तथा फैकल्टी एक्सचेंज प्रोग्राम को लेकर सहमति बन सकती है।

डा. सॉव ह टुट ने छात्रों से भेंट के दौरान बताया कि बिहार के मगध विश्वविद्यालय से अगर सहमति बनती है तो यहां पर स्नातक स्तर की पढ़ाई कर रहे छात्र सांची विश्वविद्यालय में एमए व अन्य पाठ्यक्रमों में सम्मिलित होकर लाभ उठा सकते हैं। डा. सॉव ह टुट ने सांची विवि के छात्रों को म्यान्मार में उच्च शिक्षा के स्तर के विषय में बताया।

सांची विवि में अध्ययन कर रहे विएतनामी छात्रों से मुलाकात के दौरान डा. सॉव ह टुट ने बताया कि म्यान्मार में बौद्ध दर्शन की शाखा थेरवाद का अभ्यास किया जाता है।

शोध की गुणवत्ता के स्तर को कायम रखने के उद्देश्य से सांची विश्वविद्यालय में प्रत्येक वर्ष एमए, एमफिल तथा पीएचडी के छात्रों का चयन प्रवेश परीक्षा एवं साक्षात्कार के माध्यम से होता है। यह परीक्षा प्रत्येक वर्ष जून-जुलाई माह में होती है। लेकिन विदेशी छात्रों को प्रवेश परीक्षा से छूट होती है, उन्हें सिर्फ साक्षात्कार परीक्षा में सम्मिलित होना होता है।

Related Posts: