नई दिल्ली,  फोर्ड मोटर कंपनी पहली ऑटो निर्माता है, जिसने सीओ2फीडस्टॉक के रूप में कार्बनडाईऑक्साईड का प्रयोग करके नए फोम एवं प्लास्टिक पदार्थों का विकास किया है। शोधकर्ताओं को उम्मीद है कि फोर्ड के वाहनों के उत्पादन में पांच सालों में नए बायोमटेरियल दिखने लगेंगे।

सीओ2 को सीटिंगएवं अंडरहुड प्रयोगों के लिए उपयोग किया जा सकता है। यह पेट्रोलियम उत्पादों के प्रयोग में प्रतिवर्श 600 मिलियन पाउंड्स की कटौती करदेगा, जो लगभग 35000 अमेरिकन घरों को भरने के लिए पर्याप्त होगा। सीओ2 फोम फोर्ड के वाहनों में जीवाष्म ईंधनके प्रयोग में कटौती करेगा और इस ऑटोनिर्माता की वैश्विक श्रृंखला में सस्टेनेबल फोम की मात्रा ब-सजय़ाएगा।

सस्टेनेबिलिटी पर फोर्ड के सीनियर टेक्निकल लीडर डेबी मीलेस्की ने कहा, ”फोर्ड पेट्रोलियम आधारित फोम एवं प्लास्टिक के प्रयोग मेंकटौती करके पर्यावरण पर अपना प्रभाव कम करने की दिषा में पूरी लगन से काम कर रहा है।” उन्होंने आगे कहा, ”यह तकनीक रोमांचक है क्योंकि यह मौसम परिवर्तन की बड़ी समस्या को सुल-हजयाने की दिशा में योगदान दे रही है। हमें खुषी है कि हम कार्बन उत्सर्जन एवं मौसमपरिवर्तन के प्रभाव को कम करने की दिषा में सबसे आगे हैं।

केनाफ को डोर बोल्स्टर में प्रयोग किया जाता है। रिसाईकल्ड टी-ंउचयषर्ट एवं डेनिम से कारपेटिंग की जाती है एवं रिसाईकल्ड प्लास्टिक बोतल सीट फैब्रिक बनाती हैं।फोर्ड ने 2013 में कैप्चर्ड सीओ2 के प्रयोग तलाशने के लिए कईकंपनियों, सप्लायर्स एवं विश्वविद्यालयों के साथ काम करना शुरु किया।

Related Posts: