bpl3भोपाल, दवाइयों की ऑनलाइन खरीद के विरोध में भोपाल केमिस्ट एसोसिएशन का बंद सफल रहा.मगर मरीजों को दवाईयों की परेशानी नहीं होने दी गई.सरकारी और निजी अस्पतालों के मेडिकल स्टोर तो बंद रहे,लेकिन स्टोर संचालक परिसर में ही मौजूद रहे.जानकारी के मुताबिक जरूरतमंद मरीजों को दवाईयां भी उपलब्ध कराई गई.

दरअसल बुधवार को केंद्र सरकार की ओर से दवाइयों की ऑनलाइन शॉपिंग को मंजूरी देने का विरोध किया गया.देश भर के दवा विके्रेताओं सहित शहर के दवा विक्रेताओं ने भी मेडिकल स्टोर बंद रखे. भोपाल केमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित जैन का कहना है कि ऑनलाइन शॉपिंग को मंजूरी से दवाइयों के विक्रय पर किसी का नियंत्रण नहीं रह जाएगा.सरकार को दवाओं की ऑनलाइन शॉपिंग को मंजूरी नहीं देना चाहिए.प्रदेश में करीब 20 हजार और राजधानी में करीब 1250 मेडिकल स्टोर बंद रहेंगे.

Related Posts: