तालाब के गहरीकरण एवं संधारण हेतु विस्तृत कार्ययोजना बनाने के दिए निर्देश

नवभारत न्यूज संत हिरदाराम नगर,

भोपाल की प्यास बुझाने वाले बड़े तालाब जिसकी सुन्दर्ता को देखने के लिये हजारों-लाखों पर्यटक राजा भोज की नगरी भोपाल पधारते हंै. आज वही बड़ा तालाब गहरीकरण के आभाव एवं अल्प वर्षा के कारण सूखता जा रहा है. साथ ही इस बड़े तालाब को भरने वाली कोलांस नदी के सूखने की वजह से बड़ा तालाब सूखे की चपेट में है.

हुजूर विधान सभा से विधायक एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने कलेक्टर भोपाल सुदाम खाड़े के साथ इंदौर रोड स्थित भैंसाखेड़ी के समीप बड़े तालाब के उस छोर का मुआयना किया जिस छोर से कोलांस नदी बड़े तालाब में प्रवेश करती है. विधायक रामेश्वर शर्मा ने कई मीटर तक सूख चुके बड़े तालाब एवं तालाब के परिक्षेत्र में उगे जंगली पेड़-पौधे, बेशरम की झाडिय़ों को देखकर चिंता व्यक्त की.

उन्होंने कलेक्टर भोपाल से चर्चा के दौरान जल्द से जल्द तालाब के गहरीकरण एवं संधारण हेतु विस्तृत कार्य योजना बनाने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि भोपाल की जीवन रेखा इस तालाब के संरक्षण एवं संधारण के लिये भोपाल के प्रत्येक नागरिक को आगे आने की जरूरत है.

उन्होंने कहा कि कुछ वर्ष पूर्व प्रदेश के संवेदनशील मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी चैहान ने बड़े तालाब के गहरीकरण किये जाने पर जोर दिया था. उन्होंने स्वयं श्रमदान कर संपूर्ण भोपाल के रहवासियों विशेष कर युवाओं को इस अभियान से जोड़ा था. विधायक शर्मा ने कहा कि उस तरह का श्रमदान बडें तालाब को बचाने के लिये पुन: करना आवश्यक है.

उन्होंने कलेक्टर भोपाल से आग्रह करते हुए कहा कि वह जल्द ही इस संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश संबंधितों को जारी करें एवं सार्वजनिक श्रमदान हेतु एक कार्य योजना बनायें. तालाब के निरीक्षण के दौरान डी.आई.जी भोपाल, धर्मेन्द्र चैधरी उपस्थित रहें.

Related Posts: