मुंबई,  बजट से उत्साहित निवेशकों की लिवाली से घरेलू शेयर बाजार की तेजी आज दूसरे दिन भी जारी रही।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.30 प्रतिशत यानी 84.97 अंक चढ़कर पिछले साल 04 अक्टूबर के बाद के उच्चतम स्तर 28,226.61 अंक पर तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी सूचकांक 0.20 फीसदी यानी 17.85 अंक की बढ़त के साथ 05 अक्टूबर 2016 के बाद के उच्चतम स्तर 8,734.25 अंक पर पहुँच गया।

जनवरी में भी वाहनों की बिक्री कमजोर बने रहने से ऑटो कंपनियों पर दबाव रहा।

वहीं, अमेरिका में ग्रीनकार्ड धारकों को आव्रजन में राहत दिये जाने से दवा तथा आईटी एवं टेक क्षेत्र की कंपनियों के शेयरों में लिवाली का जोर रहा।
सेंसेक्स में सबसे ज्यादा 3.31 प्रतिशत का मुनाफा डॉ. रेड्डीज लैब ने कमाया।
सबसे ज्यादा 2.49 प्रतिशत की गिरावट महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयरों में देखी गयी।

सेंसेक्स में नुकसान उठाने वाली शीर्ष चार कंपनियाँ ऑटो क्षेत्र की रहीं।
गत दिवस की तेजी जारी रखते हुये सेंसेक्स 26.19 अंक चढ़कर 28,167.83 अंक पर खुला।

लेकिन, अधिकतर प्रमुख एशियाई बाजारों के लाल निशान में रहने से शुरुआती कारोबार में इस पर भी दबाव रहा।

दोपहर से पहले जारी उतार-चढ़ाव के बीच एक समय यह 28,070.81 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतर गया।

लेकिन, अंतत: आईटी और दवा कंपनियों की तेजी ने बाजार को हरे निशान में ला दिया।

कारोबार के दौरान 28,299.92 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर से होता हुआ कारोबार की समाप्ति पर यह गत दिवस की तुलना में 84.97 अंक चढ़कर 28,226.61 अंक पर बंद हुआ।

कुल मिलाकर बाजार में धारणा मजबूत रही।

बीएसई के 20 में से 15 समूह हरे निशान में रहे।

मझौली तथा छोटी कंपनियों में करीब एक फीसदी की तेजी देखी गयी।

बीएसई का मिडकैप 0.92 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप 0.96 प्रतिशत चढ़कर क्रमश: 12,205.36 अंक और 12,278.62 अंक पर पहुँच गया।

बीएसई में कुल 2,934 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ।

इनमें 1,582 हरे निशान में और 1,222 लाल निशान में बंद हुये जबकि 130 के शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ।

निफ्टी भी 8.35 अंक की तेजी के साथ 8,724.75 अंक पर खुला।

कारोबार के दौरान 8,685.80 अंक के दिवस के निचले तथा 8,757.60 अंक के उच्चतम स्तर से होता हुआ यह 17.85 अंक की बढ़त के साथ 8,734.25 अंक पर बंद हुआ।

Related Posts: