06pic4नई दिल्ली,  गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल की बेटी अनार जयेश पटेल की एक कंपनी है. यह गिर लायन सैंक्चुअरी के पास कुल 400 एकड़ में स्थित है जिसमें 250 एकड़ जमीन कंपनी को 15 रुपये प्रति स्क्वेयर मीटर के हिसाब दी गई है.

अनार पटेल खुद को सोशल वर्कर और आंट्रप्रन्योर बताती हैं. उन्होंने रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज को जो सूचनाएं दीं, उनमें उनके और उनके बिजनस पार्टनरों के बीच कई लेन-देन देखे जा सकते हैं. ईटी ने ये सूचनाएं प्राप्त की हैं. दरअसल, वाइल्डवुड्ज रिजॉर्ट्स ऐंड रीयल्टीज को गुजरात सरकार ने 2010-11 में 250 एकड़ सरकारी जमीन दी थी. तभी से अनार पटेल की कंपनी और वाइल्डवुड्ज के बीच लेन-देन शुरू हो गए.

वाइल्डवुड्ज के मौजूदा प्रमोटर्स दक्षेश शाह और अमोल श्रीपाल सेठ अनार पटेल के बिजनस पार्टनर हैं. ईटी ने – मामले से जुड़े सभी लोगों- मुख्यमंत्री, उनकी बेटी, अनार के बिजनस पार्टनर्स और गुजरात रेवेन्यू सेक्रटरी से कुछ सवाल किए. लेकिन, गुजरात सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई.
अनार पटेल, दक्षेश शाह और श्रीपाल सेठ ने ईटी के सवालों के जवाब दिए और सभी ने इस बात पर जोर दिया कि सभी ट्रैंजैक्शंस कानूनी थे. गुजरात के अमरेली जिले में स्थित जमीन गिर सैंक्चुअरी से सटी हुई है. इसलिए यह कमर्शली काफी आकर्षक है.

वाइल्डवुड्ज को राज्य सरकार ने ना केवल 172 एकड़ कृषि योग्य भूमि खरीदने की बल्कि कृषि योग्य भूमि को गैर-कृषि योग्य भूमि की तरह इस्तेमाल करने की भी अनुमति दे दी. आनंदीबेन पटेल तब गुजरात की रेवेन्यू मिनिस्टर हुआ करती थीं और रेवेन्यू डिपार्टमेंट ही ऐसी जमीन देने वाला नोडल अथॉरिटी होता है. आनंदीबेन अब मुख्यमंत्री बन चुकी हैं.