09electionनई दिल्ली,  चुनाव आयोग ने बुधवार को बिहार विधानसभा चुनाव की मतदान की तिथियों की घोषणा कर दी. आयोग ने आज बिहार चुनाव के कार्यक्रम का ऐलान किया. मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने कार्य्रकम की घोषणा करते हुए कहा कि बिहार में पांच चरणों में चुनाव करवाए जाएंगे.

बिहार में पांच चरणों में 12 अक्टूबर से पांच नवंबर के बीच विधानसभा चुनाव होंगे और मतगणना आठ नवंबर को होगी. मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि 243 सदस्यों वाली विधानसभा के लिए चुनाव पांच चरणों में होगा और पहले चरण का मतदान 12 अक्टूबर, दूसरे चरण का मतदान 16 अक्टूबर को, तीसरे चरण का 28 अक्टूबर को, चौथे चरण का एक नवंबर को और अंतिम चरण का मतदान पांच नवंबर को होगा. पहले चरण में 49 सीटों पर, दूसरे चरण में 32 सीटों पर, तीसरे चरण में 50 सीटों पर, चौथे चरण में 55 सीटों पर और पांचवें चरण में 57 सीटों पर मतदान करवाए जाएंगे. चुनाव नतीजे 8 नवंबर को आएंगे. पहले चरण के चुनाव के लिए नोटिफिकेशन 16 सितंबर को जारी होगा और 23 सितंबर को पहले चरण में नामांकन का आखिरी दिन होगा.

गौर हो कि बिहार विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त हो रहा है. चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होते ही बिहार में आज से आचार संहिता लागू हो गया. गौर हो कि बिहार में इस बार के चुनाव को राजनीतिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. पहले चरण में 49 सीटों पर, दूसरे चरण में 32 सीटों पर, तीसरे चरण में 50 सीटों पर, चौथे चरण में 55 सीटों पर और पांचवें चरण में 57 सीटों पर मतदान करवाए जाएंगे. चुनाव नतीजे 8 नवंबर को आएंगे.
जैदी ने कहा कि चुनाव की अवधि के दौरान दशहरा, ईद, मुहर्रम, दिवाली, छठ जैसे कई महत्वपूर्ण त्योहार आ रहे हैं, आयोग साम्प्रदायिक सौहार्द और शांति सुनिश्चित करेगा. चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति और ओम प्रकाश रावत के साथ जैदी ने संवाददाताओं से कहा कि राज्य में शांतिपूर्ण, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित कराने के लिए सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किये गए हैं जहां 47 विधानसभा क्षेत्र नक्सल हिंसा से प्रभावित है. बिहार विधानसभा चुनाव के लिए 6.68 करोड़ मतदाता हैं.

बिहार में भाजपा नीत राजग और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जदयू, लालू प्रसाद की राजद और कांग्रेस के महागठबंधन के बीच कांटे की टक्कर बतायी जा रही है.

Related Posts: