05attackदो आतंगवादी ढेर, अमरनाथ यात्री थे निशाने पर, 
जम्मू, 5 अगस्त. जम्मू-कश्मीर में बीएसएफ के काफिले पर हमला कर दो जवानों को शहीद करने वाले तीन आतंकियों में से एक को जिंदा पकड़ा गया है. दो को सुरक्षाकर्मियों ने ढेर कर दिया, जबकि तीसरे आतंकी को उन्हीं लोगों ने धर दबोचा जिन्हें आतंकियों ने बंधक बना रखा था. मुंबई हमले के दौरान अजमल आमिर कसाब के पकड़ाए जाने के बाद पहली बार कोई आतंकी जिंदा पकड़ाया है. पकड़े गए आतंकी का नाम कासिम खान बताया जा रहा है.

हमला कैसे और कब हुआ- बुधवार सुबह नेशनल हाईवे से गुजर रहे बीएसएफ के काफिले को आतंकियों ने उधमपुर से दस किलोमीटर दूर नरसू इलाके में निशाना बनाया. हमले में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए, जबकि नौ लोग घायल हुए हैं. इसके बाद हुई मुठभेड़ में जवानों ने दो आतंकियों को मार गिराया. आतंकियों ने पांच लोगों को बंधक भी बना रखा था. इन्हीं लोगों ने दिलेरी दिखाते हुए एक आतंकी को दबोच कर पुलिस के हवाले कर दिया. डीआईजी सुरेंद्र गुप्ता ने कहा, ”इलाके में ऑपरेशन पूरा हो चुका है. हमले में कितने आतंकी शामिल थे इस बात का पता लगाया जा रहा है.” कहा जा रहा है कि जब जवानों ने दो आतंकियों को मार गिराया तो उसी दौरान बंधकों ने तीसरे आतंकी का हथियार छिन लिया. आम लोगों ने तुरंत इसकी जानकारी विलेज सिक्युरिटी कमेटी को दी और उसके बाद पुलिस और जवान पहुंचे.

पाक से आए थे खाली हाथ जम्मू में मिले हथियार
कासिम अपने मारे गए साथी जिसका नाम मोमिन बताया जा रहा है कि साथ 6 दिन पहले पूंछ सेक्टर से घुसपैठ कर जम्मू आया था. शुरूआती पूछताछ में उसने बताया है कि वो दोनो पाकिस्तान से खाली हाथ आए थे और उन्हें जम्मू में लोकल मॉड्यूल ने हथियार उपलब्ध करवाए थे. उसने यह भी बताया कि उनके निशाने पर अमरनाथ यात्री थे. कल रात वो हमले के लिए निकले और एक जीप वाले से गन पॉइंट पर वाहन लूट कर वो यहां पहुंचे थे. उनके हमले से पहले ही अमरनाथ यात्रियों का काफिला निकल चुका था और फिर उन्होंने बीएसएफ की बस पर हमला किया.

 

 

Related Posts: